रविवार, 16 अगस्त 2009

राजनीति में यदुवंशी- अब तक 9 यादव मुख्यमंत्री

लोकतंत्र में राजनीति सत्ता को निर्धारित करती है। राजनीति में सशक्त भागीदारी ही अंतोगत्वा सत्ता में परिणिति होती है। भारत के संविधान निर्माण हेतु गठित संविधान सभा के सदस्य रूप में लक्ष्मी शंकर यादव ने अपनी भूमिका का निर्वाह किया। वे बाद में उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री एवं उ0प्र0 कांग्रेस अध्यक्ष भी रहे। भारत में यादवों का राजनीति में पदार्पण आजादी के बाद ही आरम्भ हो चुका था, जब शेर-ए-दिल्ली एवं मुगले-आजम के रूप में मशहूर चौधरीब्रह्म प्रकाश दिल्ली के प्रथम मुख्यमंत्री बने थे। तब से अब तक भारत के विभिन्न राज्यों में 9 यादव मुख्यमंत्री पद पर आसीन हो चुके हैं।
1952 में मात्र 34 वर्ष की आयु में मुख्यमंत्री पद पर पदस्थ चौधरी ब्रह्म प्रकाश 1955 तक दिल्ली के मुख्यमंत्री रहे। हरियाणा में 1857 की क्रान्ति का नेतृत्व करने वाले राव तुलाराम के वंशज राव वीरेन्द्र सिंह हरियाणा के द्वितीय मुख्यमंत्री (1967) रहे। उत्तर प्रदेश में राम नरेश यादव (23 जून 1977-5 फरवरी 1979) व मुलायम सिंह यादव, बिहार में बी0पी0मण्डल (1 फरवरी 1968-22 मार्च 1968), दरोगा प्रसाद राय (16 फरवरी 1970-22 सितम्बर 1970), लालू प्रसाद यादव (10 मार्च 1990-31 मार्च 1995 एवं 4 अप्रैल 1995-25 जुलाई 1997), राबड़ी देवी (25 जुलाई 1997-12 फरवरी 1999, 9 मार्च 1999-1 मार्च 2000 एवं 11 मार्च 2000-22 मई 2005) एवं मध्य प्रदेश में बाबू लाल गौर ने मुख्यमंत्री पद को सुशोभित कर यादव समाज को गौरवान्वित किया। सुभाष यादव मध्य प्रदेश के तो सिद्धरमैया कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री रहे।
चौधरी ब्रह्म प्रकाश, राव वीरेन्द्र सिंह, देवनंदन प्रसाद यादव, चन्द्रजीत यादव, मुलायम सिंह यादव, लालू प्रसाद यादव, शरद यादव, बलराम सिंह यादव, राम लखन सिंह यादव, सुरेश कलमाड़ी, सत्यपाल सिंह यादव, कांती सिंह, जय प्रकाश यादव, राव इन्द्रजीत सिंह, अरूण यादव इत्यादि तमाम यदुवंशी राजनेताओं ने केन्द्रीय मंत्रिपरिषद का समय-समय पर मान बढ़ाया है। वर्तमान में लालू प्रसाद यादव, मुलायम सिंह यादव एवं शरद यादव क्रमशः राष्ट्रीय जनता दल, समाजवादी पार्टी तथा जनता दल (यू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं तो मुलायम सिंह के सुपुत्र अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश में सपा अध्यक्ष का पद सम्भाले हुए हैं। अरुण यादव केन्द्र सरकार में राज्य मंत्री हैं। वर्तमान 15वीं लोकसभा में कुल 20 यादव सांसद हैं।

4 टिप्‍पणियां:

Rashmi Singh ने कहा…

अब तक भारत के विभिन्न राज्यों में 9 यादव मुख्यमंत्री पद पर आसीन हो चुके हैं....Thats great news.

Bhanwar Singh ने कहा…

महत्वपूर्ण जानकारी.

भंवर सिंह यादव
संपादक-यादव साम्राज्य
कानपुर.

KK Yadav ने कहा…

ऐसी विभूतियों से परिचय के लिए साधुवाद.

Ghanshyam ने कहा…

यदुवंश से जुडी इतनी महत्वपूर्ण जानकारी...दिल प्रसन्न हो गया.