मंगलवार, 18 मई 2010

बहुमुखी प्रतिभा की नन्हीं धनी : पूजा यादव

प्रतिभा उम्र की मोहताज नहीं होती। उसे बस अनुकूल परिवेश चाहिए. यदुवंश में तमाम ऐसी नन्हीं प्रतिभाएं हैं, जिनके जौहर आप विभिन्न ब्लॉग पर देख सकते हैं. ऐसी नन्हीं प्रतिभाओं को हमें यदुकुल पर स्थान देकर प्रसन्नता हो रही है, आखिर यही कल के भविष्य हैं. इस कड़ी में हमने आपको सबसे पहले नन्हीं प्रतिभा अक्षिता (पाखी) से मिलाया था. आज मिलिए पूजा यादव से, जो इतनी कम उम्र में ही ढेर सारी उपलब्धियां सहेजे हुए हैं. बाल उद्यान में हमें इनकी चित्रकारी के अद्भुत रंग देखने को मिले. चलिए हम भी पूजा यादव से परिचित होते हैं-
नाम- पूजा प्रेम यादव
जन्मतिथि- 17 जून 1997
कक्षा- 7, स्कूल- एसबीओए पब्लिक स्कूल, औरंगाबाद, महाराष्ट्र।
कक्षा में हमेशा शुरू के दो स्थानों में होती हैं।
रुचियाँ- चित्रांकन (ड्रॉइंग), चित्रकारी, नृत्य, किताबें पढ़ना और खेलना।
उपलब्धियाँ- राज्यस्तरीय और राष्ट्रस्तरीय एथलीट प्रतियोगिता में भाग लिया। ललित कला अकादमी की ओर से ड्रॉइंग और पेंटिंग के लिए ढेरों पुरस्कार प्राप्त किये। ज़ी, ज़ेप और इनफाइनाइट जैसे समूहों की ओर से डांसिंग के लिए अवार्ड। बूगी-वूगी में भी भाग लिया। राज्यस्तरीय वाद-विवाद प्रतियोगिता में पुरस्कृत।
पूजा यादव के बनाये गए तमाम चित्र आप बाल-उद्यान पर जाकर देख सकते हैं. पूजा यादव को यदुकुल की तरफ से ढेरों शुभकामनायें !!

5 टिप्‍पणियां:

दीपक 'मशाल' ने कहा…

निःसंदेह पूजा एक बहुत ही अच्छी कलाकार है जिससे संपूर्ण कला जगत उम्मीद लगा सकता है.. निवेदन है कृपया उसे किसी जाति विशेष से न जोड़ें.. वो तो पूरे भारत की प्रतिभा है..

KK Yadava ने कहा…

पूजा यादव को हार्दिक बधाई.

Shyama ने कहा…

पूत के पाँव पालने में..अच्छी चित्रकारी है पूजा की..बधाई.

अक्षिता (पाखी) ने कहा…

पूजा दी को ढेरों बधाई..

praween yadav ने कहा…

i wish all her dreams come true. Go ahead with patience unless and until achieve ur Goal................